पंखुरी के ब्लॉग पे आपका स्वागत है..

जिंदगी का हर दिन ईश्वर की डायरी का एक पन्ना है..तरह-तरह के रंग बिखरते हैं इसपे..कभी लाल..पीले..हरे तो कभी काले सफ़ेद...और हर रंग से बन जाती है कविता..कभी खुशियों से झिलमिलाती है कविता ..कभी उमंगो से लहलहाती है..तो कभी उदासी और खालीपन के सारे किस्से बयां कर देती है कविता.. ..हाँ कविता.--मेरे एहसास और जज्बात की कहानी..तो मेरी जिंदगी के हर रंग से रूबरू होने के लिए पढ़ लीजिये ये पंखुरी की "ओस की बूँद"

मेरी कवितायें पसंद आई तो मुझसे जुड़िये

Friday, 2 September 2016

औरतें कलाकार होती हैं



औरतें खुश हो जाती हैं
छोटी छोटी चीजों में
मसलन टीवी पर
उनकी पसंद का चैनल चला दिया जाए
या फिर किसी दिन
उनके खाना बनाने की छुट्टी कर दी जाए
ऐसी ही तमाम छोटी छोटी बातें
क्योंकि वो जानती हैं
बड़ी बातें बड़ी चीजें
उनके लिए नहीं हैं
उस बारे में बात करना ही उन्हें
जाहिल गंवार की श्रेणी में खड़ा कर देता है
इसलिए खुश होती हैं छोटी चीजों से,
अपने अपने घर में
सभी साक्षी और सिंधु हैं
जो लड़ रही हैं
अपने वजूद के लिए- नहीं
अपनी इच्छाओं के लिए
उनमें से सबको कहाँ जानते हैं हम
हाँ कुछ एक जो इस लड़ाई में जीत जाती हैं
वो नजर में आ जाती हैं
पर उनका रास्ता कितना पथरीला था
कौन समझेगा !
और बाकी का क्या
कुछेक तो बीच में ही दम तोड़ देती हैं
और कुछ आखिर में
और बाकी सब
अपनी गृहस्थी की गाडी चलाने के लिए
संतुष्ट करती रहती हैं
पुरुष का अहम
खुश होती रहती है
खुश होती नहीं है औरतें अपनी इच्छाएं मार के
बस नाटक भर करती है
गजब की कलाकार होती हैं औरतें ।
---पारुल'पंखुरी'
शामली (उत्तर प्रदेश )
२७ अगस्त २०१६


3 comments:

  1. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, "नाम में क्या रखा है!? “ , मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  2. भावपूर्ण ...

    ~सादर
    अनिता ललित

    ReplyDelete
  3. vo kehte hai na...asli khushi chhoti chhoti cheezon mein hoti hai..iss liye pankhuri sahi keha tumne..acchi likhi hai

    ReplyDelete

मित्रो ....मेरी रचनाओं एवं विचारो पर कृपया अपनी प्रतिक्रिया अवश्य दे ... सकारात्मक टिपण्णी से जहा हौसला बढ़ जाता है और अच्छा करने का ..वही नकारात्मक टिपण्णी से अपने को सुधारने के मौके मिल जाते हैं ..आपकी राय आपके विचारों का तहे दिल से मेरे ब्लॉग पर स्वागत है :-) खूब बातें कीजिये क्युकी "बात करने से ही बात बनती है "

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...