पंखुरी के ब्लॉग पे आपका स्वागत है..

जिंदगी का हर दिन ईश्वर की डायरी का एक पन्ना है..तरह-तरह के रंग बिखरते हैं इसपे..कभी लाल..पीले..हरे तो कभी काले सफ़ेद...और हर रंग से बन जाती है कविता..कभी खुशियों से झिलमिलाती है कविता ..कभी उमंगो से लहलहाती है..तो कभी उदासी और खालीपन के सारे किस्से बयां कर देती है कविता.. ..हाँ कविता.--मेरे एहसास और जज्बात की कहानी..तो मेरी जिंदगी के हर रंग से रूबरू होने के लिए पढ़ लीजिये ये पंखुरी की "ओस की बूँद"

मेरी कवितायें पसंद आई तो मुझसे जुड़िये

Thursday, 15 August 2013

मेरा फर्ज ...



सभी मित्रो को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनायें





जिसकी गोद में बचपन खिलखिलाया
जिसके आँचल ने दुश्मनों से छुपाया
खुद जुल्म सहे ..हमको बचाया
ऐसी माँ भारती का हम पे कर्ज है
अब माँ को सम्हाले ये मेरा फर्ज है

जिसने गंगा सा निर्मल जल है बहाया
जिसने हिमालय सा प्रहरी रक्षा को बिठाया
जिसने कपूतो को भी ममता की छाँव में सुलाया
ऐसी माँ भारती का हम पे कर्ज है
अब माँ को संभाले ये मेरा फर्ज है

क्यों करें हम इन्तजार बरसो तलक
जन्मेगा फिर से सुखदेव या कोई भगत
फिर लेगी कोई लक्ष्मी अवतार है
कोढ़ हुआ देश को ये बड़ा मर्ज है
तुरंत इसका उपचार मेरा फर्ज है

डर डर के जीना कोई जीना नहीं
अब इस दर्द को हमे और पीना नहीं
घर घर में बनाने हैं भगत और गुरु
के बिन कफ़न के .. कोई अब निकले नहीं
मेरी आज बस यही अर्ज है
माँ भारती को बचाना अब मेरा फर्ज है ...

-------------------------पारुल'पंखुरी'

5 comments:

  1. बहुत सुंदर भाव...... स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनायें

    ReplyDelete
  2. बहुत सुंदर भावपूर्ण रचना,,,

    स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाए,,,

    RECENT POST: आज़ादी की वर्षगांठ.

    ReplyDelete
  3. सटीक रचना
    स्वतंत्र दिवस की शुभकामनाएं
    latest os मैं हूँ भारतवासी।
    latest post नेता उवाच !!!

    ReplyDelete
  4. घर घर में भगत राजगुरु जरूर बनते अगर देश उनका महत्त्व समझ पाता ... उनको कुह मान दे पाता ... भाव मय रचना ...
    स्वतंत्रता दिवस की बधाई और शुभकामनायें ...

    ReplyDelete
  5. बहुत सुंदर .....ऐसे जज्बातों की बहुत जरूरत है आज हमारे समाज को

    ReplyDelete

मित्रो ....मेरी रचनाओं एवं विचारो पर कृपया अपनी प्रतिक्रिया अवश्य दे ... सकारात्मक टिपण्णी से जहा हौसला बढ़ जाता है और अच्छा करने का ..वही नकारात्मक टिपण्णी से अपने को सुधारने के मौके मिल जाते हैं ..आपकी राय आपके विचारों का तहे दिल से मेरे ब्लॉग पर स्वागत है :-) खूब बातें कीजिये क्युकी "बात करने से ही बात बनती है "

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...